10.5 C
London
Monday, July 15, 2024
spot_img

नैनीताल परीताल के पास नहाते समय डूबा फौजी, तीन दिन बाद भी नहीं लगा सुराग, सर्च ऑपरेशन जारी

ख़बर रफ़्तार, नैनीताल: धारी क्षेत्र में परीताल में नहाते समय भारतीय सेवा (9 कुमाऊं रेजीमेंट) के जवान के लापता होने के तीन दिनों बाद भी आपका कोई सुराग नहीं लगा है. फौजी की खोज में स्थानीय पुलिस एसडीआरएफ और एनडीआरएफ तीन दिन से जुटी हुई है. बीते मंगलवार को हल्द्वानी से पांच फौजी दोस्त छुट्टियों के दौरान घूमने के लिए धारी के परी ताल क्षेत्र में पहुंचे. जहां नहाते समय हल्द्वानी निवासी हिमांशु दफौटी गहरे पानी में चले गए. जिसके बाद वे नदी के तेज बहाव में बह गए.

जानकारी देते हुए एसडीआरएफ ने बताया धारी विकासखंड के पदमपुरी मार्ग पर सड़क से नीचे बसे बमेटा गांव के पुल के गधेरे में मंगलवार की शाम छुट्टी मनाने पहुंचे पांच फौजियों में से एक फौजी गधेरे में नहाते समय डूब गया. साथी फौजी को डूबता देख अन्य साथी भी उसे बचाने के लिए पहुंचे, मगर वे उसे बचा नहीं सके. साथियों ने जिला प्रशासन और पुलिस को सूचना दी. सूचना पर देर शाम सात बजे धारी, धानाचूली पुलिस, राजस्व पुलिस, एसडीआरएफ और फायर की टीम मौके पर पहुंची. एसडीआरएफ ने गधेरे में डूबे फौजी को खोजने के लिए सर्च अभियान चलाया. अंधेरा होने के कापण सर्च अभियान को उस दिन स्थगित किया गया. बुधवार को भी फौजी की तलाश की गई, लेकिन सफलता नहीं मिली.

धारी एसडीएम केएन गोस्वामी ने बताया मंगलवार शाम विनोद सिंह पुत्र देवेंद्र सिंह निवासी देवलचौड़ हल्द्वानी ने जिला प्रशासन को घटना सूचना दी. उन्होंने बताया वह अपने दोस्त हिमांशु देफौटिया पुत्र पुष्कर देफौटिया निवासी बागेश्वर हाल निवासी कुसुमेखेड़ा हल्द्वानी, प्रदीप नेगी पुत्र नंदन सिंह निवासी सोमेश्वर अल्मोड़ा, आकाश बिष्ट पुत्र लाल सिंह निवासी शेरपुर देहरादून, चंदन सिंह निवासी मानपुर वेस्ट हल्द्वानी के साथ गधेरे में नहा रहे थे. तभी अचानक नहाते समय हिमांशु देफौटिया पानी में डूबने लगा.

उसे बचाने के लिए हम सभी आगे आए, लेकिन पानी अधिक होने से हिमांशु का पता नहीं लग पाया. विनोद ने बताया वह और उसके सभी साथी कुमाऊं रेजीमेंट के नाइन कुमाऊं की यूनिट में तैनात हैं. घटना के बाद पुलिस ने डूबे हुए युवक के परिजनों को सूचना दे दी है. स्थानीय लोगों ने बताया गधेरे में नहा रहे सभी युवकों से स्थानीय लोगों ने नहाने से मना किया था, लेकिन हिमांशु नहीं माना. वह नहाते समय डूब गया. स्थानीय लोगों ने कहा गधेरे और नदी में नहाते समय पूर्व में भी लोगों की मौत हो चुकी है.

पढ़ें- स्‍कूल में DM के औचक न‍िर‍ीक्षण से मची खलबली, टीचर की मोबाइल ह‍िस्‍ट्री देखते ही भड़के ज‍िलाधि‍कारी; कर द‍िया सस्‍पेंड

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here