19.1 C
London
Tuesday, July 23, 2024
spot_img

गोपेश्वर में नहाते समय नदी में बहा युवक, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

ख़बर रफ़्तार, चमोली: गोपेश्वर में बालखिला नदी में नहाते समय एक युवक नदी के तेज बहाव में बह गया. युवक के बहने की सूचना पर पुलिस और डीडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची. जहां टीम ने नदी में रेस्क्यू अभियान चलाया और शव को बाहर निकाला. वहीं, चमोली पुलिस शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई कर रही है.

जानकारी के मुताबिक, चमोली जिले के गोपेश्वर के नेग्वाड गांव का प्रांजल पंखोली पुत्र सुरेंद्र पंखोली (उम्र 18 वर्ष) अपने दोस्तों के साथ बालखिला नदी में नहाने गया था. जहां नहाते समय प्रांजल अचानक नदी के तेज बहाव में बहने लगा. जब तक उसके दोस्त कुछ कर पाते, तब तक वो नदी में ओझल हो चुका था. जिसे देख उसके दोस्तों के होश उड़ गए.

इसके बाद प्रांजल के दोस्तों ने आनन-फानन में इसकी सूचना पुलिस को दी. सूचना मिलते ही चमोली पुलिस और डीडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची. जहां टीम ने प्रांजल की खोजबीन शुरू की. प्रत्यक्षदर्शियों ने रेस्क्यू टीम को बताया कि एक युवक को अलकनंदा और बालखिला नदी के संगम की तरफ बहते हुए देखा था. जिस पर पुलिस और डीडीआरएफ की टीम संगम की तरफ गई.

वहीं, प्रांजल संगम पर नजर आया. जिसे तत्काल बाहर निकालकर सीपीआर दिया गया. सीपीआर देने के बाद प्रांजल को एंबुलेंस के माध्यम से गोपेश्वर जिला अस्पताल भेजा गया. जहां डॉक्टरों ने प्रांजल को मृत घोषित कर दिया. प्रांजल की मौत के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है. उधर, ग्रामीण और रिश्तेदार परिवार को ढांढस बंधाने पहुंच रहे हैं.

बता दें कि बालखिला नदी का अब तक का इतिहास रहा है कि हर साल बरसात में कोई न कोई बहता या डूब जाता है. स्थानीय लोगों का कहना है कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए जहां अभिभावकों को जागरूक होने की जरूरत है तो वहीं प्रशासन को भी समय-समय नदियों में गश्त किए जाने की आवश्यकता है. साथ ही लोगों को बरसात में नदी किनारे जाने से रोकना होगा.

ये भी पढ़ें- दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद कैदी की मौत, परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here