10.5 C
London
Monday, July 15, 2024
spot_img

धामी सरकार के विरोध में गणेश गोदियाल ने रखा मौन व्रत, दिल्ली में केदारनाथ मंदिर बनाने पर हैं आहत

ख़बर रफ़्तार, श्रीनगर: कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और बदरी-केदार मंदिर के पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने सरकार की कार्य प्रणाली को लेकर राहु मंदिर में एक दिन का मौन व्रत रखा. साथ ही सरकार की बुद्धि की शुद्धि के लिए यज्ञ भी किया. इस दौरान गोदियाल ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री धामी उतराखंड की जनता की भावनाओं के साथ खेलने का काम कर रहे हैं.

कांग्रेस नेता गणेश गोदियाल ने कहा कि सरकार को क्या जरूरत महसूस हुई थी कि केदारनाथ मंदिर की शिला को लेकर दिल्ली में केदारनाथ का मंदिर बनाया जा रहा है. इसमें सरकार का निजी स्वार्थ है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस मंदिर की राजनीति का विरोध करती है और सड़कों पर उतरकर मामले की जांच करवाने की मांग करती है, क्योंकि सरकार ने जनता की धार्मिक भावनाओं को छेड़ा है.

गणेश गोदियाल ने कहा कि उतराखंड के कठुआ आतंकी हमले में पांच जवान शहीद हुए थे. ऐसे में मुख्यमंत्री को इतना भी याद नहीं रह की जवानों की चिताओं पर अग्नि भी नहीं लगी और वो मंदिर के भूमि पूजन के लिए दौड़ पड़े. उन्होंने कहा कि केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत का निधन हो गया, लेकिन सरकार को इस बात का भी कोई फर्क नहीं पड़ता.

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दिल्ली स्थित बुराड़ी, हिरंकी में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए केदारनाथ मंदिर ( दिल्ली ) का भूमि-पूजन कर मंदिर का शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने कहा था कि इस मंदिर से शिव भक्तों और सनातन संस्कृति की आस्था को बल मिलेगा. यह मंदिर श्रद्धा को जीवन, मानव को महादेव, समाज को अध्यात्म, और वर्तमान पीढ़ी को प्राचीन संस्कृति से जोड़ने का कार्य करेगा.
- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here