8 C
London
Tuesday, April 16, 2024
spot_img

देहरादून: शहरों और कस्बों में पसर सकता है अंधेरा, स्ट्रीट लाइटों का 94 करोड़ बिल बकाया

ख़बर रफ़्तार, देहरादून: चालू वित्तीय वर्ष में अधिक से अधिक राजस्व वसूली अभियान में जुटे ऊर्जा निगम के लिए स्ट्रीट लाइटों का बिल वसूलना चुनौती बन गया है।

देहरादून में स्ट्रीट लाइट का नौ करोड़ रुपये से अधिक बिजली बिल बकाया है। ऊर्जा निगम ने सभी संबंधित संस्थाओं को अंतिम रिमाइंडर भेजा है, जिसके बाद कनेक्शन काट दिए जाएंगे और सड़कों पर अंधेरा पसर जाएगा।

बकाया बिल की वसूली

ऊर्जा निगम की ओर से घरेलू और कमर्शियल उपभोक्ताओं से करीब दो माह से बकाया बिल की वसूली की जा रही है। साथ ही बड़े बकायेदारों के कनेक्शन भी काटे जा रहे हैं। मार्च की शुरुआत से ही यह अभियान तेज कर दिया गया था। जबकि, सरकारी महकमों को भी बकाया भुगतान के नोटिस लगातार भेजे जा रहे हैं।

इसी क्रम में ऊर्जा निगम के विभिन्न सर्किल के तहत आने वाले शहरों व कस्बों में स्ट्रीट लाइट का बिजली बिल भी लंबे समय से जमा नहीं हुआ। जिस पर निगम लगातार रिमाइंडर भेज तो रहा है, लेकिन संबंधित संस्थाएं दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। बीते दिनों देहरादून नार्थ जोन के तहत आने वाले मसूरी में भी बकाया जमा न कराने पर स्ट्रीट लाइट का कनेक्शन काट दिया गया।

अब मार्च में दो दिन शेष हैं और यदि भुगतान नहीं किया गया तो ऊर्जा निगम कई शहरों में स्ट्रीट लाइट के कनेक्शन काट सकता है। ऊर्जा निगम के निदेशक परिचालन एमआर आर्य ने बताया कि सभी संबंधित निकायों व संस्थाओं से 31 मार्च से पहले बिल का भुगतान करने की अपील की गई है।

देहरादून के विभिन्न क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट का बकाया

  • उपखंड, बकाया (करोड़ में)
  • डोईवाला, 0.89
  • मोहनपुर, 0.29
  • ऋषिकेश, 1.67
  • देहरादून ग्रामीण, 0.72
  • विकासनगर, 1.73
  • दून सेंट्रल, 0.10
  • दून नार्थ, 2.91
  • दून साउथ, 0.96

प्रदेशभर में स्ट्रीट लाइट का बकाया

  • जिला, बकाया (करोड़ में)
  • देहरादून, 9.27
  • नैनीताल, 12.31
  • चमोली, 1.68
  • रुद्रप्रयाग, 3.90
  • पिथौरागढ़, 1.54
  • अल्मोड़ा, 4.32
  • बागेश्वर, 0.31
  • हरिद्वार, 35.32
  • ऊधमसिंह नगर, 23.06
  • पौड़ी, 2.68
  • उत्तरकाशी, 0.24
  • कुल बकाया, 94.40

ये भी पढ़ें…लोकसभा चुनाव 2024: 19 अप्रैल को उत्‍तराखंड में होगा मतदान, लोकतंत्र के महापर्व पर आहुति डालेंगे 83.37 लाख मतदाता

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here