22.3 C
London
Monday, June 17, 2024
spot_img

उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी ने 800 से ज्यादा छात्रों को परीक्षा देने से रोका, जानें कारण

ख़बर रफ़्तार, देहरादूनः उत्तराखंड में वीर माधो सिंह भंडारी उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी के पांच कैंपस कॉलेज हैं. साथ ही कई प्राइवेट कॉलेज भी ऐसे भी हैं जो उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी से एफिलिएशन प्राप्त कर इंजीनियरिंग कॉलेज संचालन कर रहे हैं. अभी तक इन इंजीनियरिंग कॉलेजों में छात्रों की अटेंडेंस और परीक्षा के दौरान नकल को लेकर कई शिकायतें मिलती थी. लेकिन अब उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी ने यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट सिस्टम (UMS) लागू कर सभी गतिविधियों को ऑनलाइन कर दिया गया है. ऐसे में यूनिवर्सिटी उन कॉलेजों और ऐसे छात्रों की छटनी कर रहा है जो लगातार लापरवाही बरत रहे हैं.

परीक्षा देने से रोके गए 844 छात्र

उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर ओंकार सिंह ने ईटीवी भारत से बातचीत करते हुए बताया कि, विश्वविद्यालय द्वारा 20 मई से परीक्षाएं शुरू करवाई गई. विश्वविद्यालय द्वारा पारदर्शी परीक्षा कराने के लिए सभी कड़े कदम उठाए गए हैं. प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर सीसीटीवी, फ्लाइंग स्क्वाड और ऑब्जर्वर तैनात किए गए. लेकिन इसके बावजूद भी रुड़की के कॉलेज में लगातार अनियमितता पाई गई. जिसके मद्देनजर वहां ऑब्जर्वर को हटाया गया है.

वहीं कई कॉलेजों में परीक्षा केंद्र नहीं बनाए गए. उन्होंने बताया कि पिछले लंबे समय से देखा जा रहा है कि कई कॉलेजों में नॉन अटेंडिंग क्लास की गलत परिपाटी चली आ रही है. जिसे रोकने के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा अटेंडेंस मैनेजमेंट सिस्टम लाया गया. इस सिस्टम के माध्यम से इस बार 844 बच्चों को परीक्षा देने से रोका गया है.

यूनिवर्सिटी करेगा मॉनिटरिंग

उत्तराखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर ओंकार सिंह ने बताया कि यूनिवर्सिटी लगातार शिक्षा के क्षेत्र में हर वह रिफॉर्म कर रही है जो कि शिक्षा की गुणवत्ता और पारदर्शिता को बेहतर करने के लिए जरूरी है. उन्होंने बताया कि यूनिवर्सिटी द्वारा खुद का यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट सिस्टम लागू किया गया है. जिसके तहत यूनिवर्सिटी से एफिलिएटेड कॉलेज और छात्रों की हर एक गतिविधियों और उनके डेटा को इंटीग्रेटेड कर इस सिस्टम पर लाया जा रहा है. ताकि सभी कॉलेजों की सही से मॉनिटरिंग हो पाए.

उन्होंने बताया कि परीक्षाओं में लगातार होने वाली नकल पर लगाम लगाने के लिए आने वाली परीक्षाओं में विश्वविद्यालय एक और रिफॉर्म करने जा रहा है. उन्होंने बताया कि अगली परीक्षा से विश्वविद्यालय सभी परीक्षा केंद्रों का सीसीटीवी नेटवर्क अपने कंट्रोल लेगा. सीधा यूनिवर्सिटी से परीक्षा केंद्रों की रियल टाइम मॉनिटरिंग की जाएगी.

ये भी पढ़ेंः- चंपावत में मुर्गी ले जा रहा वाहन खाई में गिरा, हादसे में एक की मौत, एक घायल

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here