17.2 C
London
Thursday, May 23, 2024
spot_img

26.11 करोड़ से होगा तिलक ब्रिज रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास, पहले से अधिक ट्रेनों का होगा संचालन

ख़बर रफ़्तार, नई दिल्ली:  अमृत भारत स्टेशन के अंतर्गत दिल्ली के तिलक ब्रिज रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पुनर्विकास कार्य का शिलान्यास रखा। 26.11 करोड़ रुपये से इस स्टेशन का कायाकल्प किया जाएगा। यात्रियों को बड़े स्टेशनों जैसी सुविधाएं उपलब्ध होगी।

तिलक ब्रिज रेलवे स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने कहा कि अगले वर्ष इस स्टेशन का 100 वर्ष पूरा होने जा रहा है।

स्टेशनों के पुनर्विकास के अंतर्गत यात्रियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ यहां व्यवसायिक गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व इस समय दिल्ली में 4428 करोड़ रुपये की रेल परियोजनाओं का काम चल रहा है। पटेल नगर में एफओबी नहीं होने के कारण असुरक्षित तरह से रेलवे लाइन पार करने में प्रत्येक वर्ष 25 से अधिक लोगों की मृत्यु होती थी। इस अवसर पर दिल्ली के मंडल रेलवे प्रबंधक सुखविंदर सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

पुनर्विकास के अंतर्गत उपलब्ध होने वाली सुविधाएं

  1. स्टेशन भवन के अग्रभाग का विकास।
  2. प्रतीक्षालय, कैफेटेरिया और एक स्टेशन-एक उत्पाद का स्टाल।
  3. शौचालय और अन्य यात्री सुविधाओं का विकास।
  4. स्टेशन परिसर व पार्किंग का विकास।
  5. परिसर में प्रवेश और निकास की अलग-अलग व्यवस्था।
  6. दिव्यांगजन की सुविधाओं का विकास (प्रवेश द्वार पर रैंप, विशेष शौचालय व जल बूथ, साइनेज आदि)
  7. 12 मीटर चौड़ा फुट ओवर ब्रिज।
  8. छह लिफ्ट एवं एक एस्केल्टर।
  9. रोशनी की व्यवस्था में सुधार।
  10. एक्जीक्यूटिव/आरक्षित लाउंज/वीआइपी रूम में एलईडी टीवी।
  11. यात्री घोषणा प्रणाली का विस्तार।

अधिक ट्रेनों का संचालन हो सकेगा संभव

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नजदीक स्थित तिलक ब्रिज महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन है। यहां से बुलंदशहर एमईएमयू, सिरसा एक्सप्रेस, श्रीगंगानगर एक्सप्रेस और भिवानी एक्सप्रेस रवाना होती है।

साथ ही देहरादून जनशताब्दी, बरेली इंटर सिटी, आगरा इंटर सिटी, मेरठ-श्रीगंगानगर एक्सप्रेस सहित 40 ट्रेनों का यहां ठहराव है। यहां से आसपास के शहरों के लिए लोकल ट्रेनें उपलब्ध हैं।

प्रतिदिन लगभग 10 हजार यात्री पहुंचते हैं। सुविधाएं नहीं होने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस स्टेशन पर सात प्लेटफार्म उपलब्ध है। यहां से नई दिल्ली के बीच ट्रेनों की आवाजाही को सुगम बनाने के लिए पांचवीं व छठी लाइन बनाई गई है।

यात्री सुविधाओं का विस्तार होने से भविष्य में कई अन्य ट्रेनों का संचालन संभव हो सकेगा। आइटीओ के आसपास के साथ ही लक्ष्मी नगर क्षेत्र के यात्रियों को भी इससे लाभ होगा।

ये भी पढ़ें…लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला सहित 48 भाजपा नेताओं के खिलाफ मुकदमा होगा वापस, भजन लाल सरकार ने लिया बड़ा फैसला

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here