8 C
London
Tuesday, April 16, 2024
spot_img

ये आराम से बैठने का समय नहीं’, CWC बैठक में मल्लिकार्जुन खरगे और राहुल गांधी ने बताया 2024 का मास्टर प्लान

खबर रफ़्तार, तेलंगाना:  कांग्रेस कार्यसमिति की दो बैठक तेलंगाना के हैदाबाद में आयोजित की गई। इस बैठक के जरिए कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आगामी विधानसभा चुनाव के लिए रोडमैप भी तैयार किया। वहीं, बैठक के बाद कांग्रेस ने मांग उठाई की संसद के विशेष सत्र के दौरान महिला आरक्षण बिल को पास किया जाए। बता दें कि 9 मार्च 2010 को ही राज्यसभा से महिला आरक्षण बिल पारित किया जा चुका है।

इस बैठक में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से लेकर मणिपुर हिंसा तक पर चर्चा हुई। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्य्क्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने बैठक के दौरान क्या कुछ कहा कि उसकी एक विस्तृत जानकारी उन्होंने अपने एक्स हैंडल के जरिए साझा की है।

मल्लिकार्जुन खरगे द्वारा बैठक के दैरान दिए गए वक्तव्य के कुछ अंश-

• आज ऐतिहासिक दिन है। 1948 में आज ही के दिन हैदराबाद आजाद हुआ था। इसके लिए कांग्रेस ने लंबी लड़ाई लड़ी। नेहरूजी और सरदार पटेल साहेब ने हैदराबाद को मुक्त कराया।

 हैदराबाद की इस बैठक के संदेश का देश इंतजार कर रहा है। आज का हमारा एजेंडा राज्यों के विधानसभा चुनाव और 2024 का लोकसभा चुनाव की तैयारी है।

 भविष्य की चुनौतियों से हम लोग अवगत हैं। ये चुनौतियां असल में भारतीय लोकतंत्र की चुनौतियां हैं। देश को संविधान को बचाने की चुनौती है। SC/ST/BC महिलाओं, गरीबों, अल्पसंख्यकों के अधिकारों को बचाने की चुनौती है।

  •  कांग्रेस के अपने 138 सालों के गौरवशाली इतिहास में एक से एक बड़ी चुनौतियों पर विजय हासिल की।

• अगले 2- 3 महीनों में 5 राज्यों के चुनाव तय हैं। लोक सभा चुनाव महज़ 6 महीने दूर हैं।

• जम्मू-कश्मीर में भी विधानसभा चुनाव हो सकते हैं, हमें ये भी ध्यान रखना होगा।

• छत्तीसगढ़ और राजस्थान में हमारी राज्य सरकारों ने सामाजिक न्याय का नया मॉडल बनाया है। इसके बारे में हमें पूरे देश को बताना है।

• कांग्रेस ने चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। पिछले 2 महीनों में हमने 20 राज्यों के पदाधिकारियों और प्रमुख नेताओं के साथ विस्तार से बैठक कर वहां की रणनीति बनायी।

• हमें वोटर के साथ लगातार संपर्क में रहना है। उनके सवालों का जवाब देना है। विरोधियों द्वारा फैलायी जा रही झूठी बातों की हमे तुरंत काट करनी है। मुद्दों और तथ्यों के आधार पर अपनी बात रखनी है।

 हमे अपनी ताकत दिखानी होगी। इस तानाशाह सरकार को हटाकर भारत के लोकतंत्र को बचाना होगा।

 देश बदलाव चाहता है, ये संकेत हमारे सामने है। हाल के चुनावों में कर्नाटक और उसके पहले हिमाचल प्रदेश में हम विजयी रहे, ये इस बात का प्रमाण हैं।

• ये आराम से बैठने का समय नहीं है। दिन-रात मेहनत करनी होगी।

  •  हैदराबाद में ही 1953 में कांग्रेस महाधिवेशन में पंडित जवाहर लाल नेहरूजी ने कहा था

 कर्नाटक में हम एकजुट रहे, जिसका नतीजा सबने देखा।

• जहां हमारी राज्य सरकारें हैं, उनके अच्छे कामों को प्रचारित करना है। हमें ये भी बताना है कि केंद्र सरकार कैसे हमारी सरकारों की प्रगति में रोड़े डालती है।

• जहां हम विपक्ष में हैं, वहां सत्तादल की खामियां और जन विरोधी नीतियों को हमें expose करना है।

• मोदी सरकार जनता के मूल-भूत मुद्दों से भटकाने के लिए, नये-नये मसले लाकर distract और divert करने की राजनीति करती है।

 संविधान और लोकतंत्र की बुनियाद कांग्रेस ने रखी है। इसलिए इनकी रक्षा का जिम्मा भी कांग्रेस पर ही है। इसके लिए आखिरी सांस तक लड़ना होगा।

 2024 में महात्मा गांधीजी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने की शताब्दी है। 2023 कांग्रेस सेवादल की शताब्दी है।

• 2024 में BJP को सत्ता से बेदखल करना महात्मा गांधी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

बैठक में राहुल गांधी ने क्या कहा?

इस बैठक के बाद कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा कि राहुल जी ने CWC की मीटिंग में कहा, “कांग्रेस पार्टी संगठन आधारित पार्टी नहीं है। कांग्रेस पार्टी एक आंदोलन है, जिसके पास एक संगठन भी है। यही कांग्रेस पार्टी और देश की अन्य पार्टी में एक मौलिक फर्क है।”

‘भारत जोड़ो यात्रा’ कांग्रेस को अपनी आंदोलन की जड़ों में ले जा रही है। इस यात्रा से हमारे शुभचिंतकों के बीच एक बात आई कि यह रास्ता कांग्रेस का है, भारत का है, हिंदुस्तान और INDIA का है।

बताते चलें कि इस साल के अंतिम महीने में पांच राज्य, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में चुनाव होने वाले हैं। इस बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर काफी चर्चा हुई है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here