11.1 C
London
Monday, May 27, 2024
spot_img

काकड़ीघाट बाजार में पसरा सन्नाटा, गुलदार की दहशत में शिक्षा विभाग; कर्फ्यू जैसे हालात

ख़बर रफ़्तार, गरमपानी:  उत्तराखंड में गुलदार के आतंक से गांव की गलियां सूनी हो गई हैं। लोग अपने-अपने घरों में कैद होकर रह गए हैं। अब अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे पर स्थित काकड़ीघाट क्षेत्र में गुलदार की दहशत से मुख्य बाजार में कर्फ्यू जैसे हालात हो गए है‌। शाम होते ही दुकानदार भी दुकानें बंद कर घरों में कैद हो जा रहे हैं।

गांवों से खरीददारी को पहुंचने वाले ग्रामीणों की संख्या भी कम हो गई है‌। शिक्षा विभाग ने भी अभिभावकों से बच्चों को निगरानी में विद्यालय पहुंचाने की अपील की है। स्थानीय लोग गुलदार की लगातार बढ़ रही आवाजाही से चिंतित है। अनहोनी का अंदेशा जता समय रहते गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाए जाने की मांग वन विभाग से की है।

यह भी पढ़ें:देहरादून: रिलायंस ज्वेल्स डकैती कांड में जांच है जारी, चारों बदमाशों पर घोषित होगा इनाम

युवक को बीच सड़क पर मारा

काकड़ीघाट क्षेत्र में गुलदार की आवाजाही तेज होने से दहशत बढ़ गई है। बीते दिनों सड़का गांव के युवक को मार डालने के बाद अब बेखौफ गुलदार दिन दोपहर ही हाईवे से सटे इलाके में दिखने लगा है। स्थानीय व्यापारी गोपाल सिंह कनवाल के अनुसार उनकी दुकान के ठीक पीछे खेत में गुलदार देखा गया। हो हल्ला करने पर बामुश्किल गुलदार को भगाया जा सका।

गुलदार के आतंक से पसरा सन्नाटा

हाईवे से गांवों को जोड़ने वाली रोड पर स्थित काकड़ीघाट मुख्य बाजार में भी गुलदार के खौफ से सन्नाटा पसरा हुआ है। कर्फ्यू जैसे हालात पैदा हो गए हैं। शाम होते ही व्यापारी दुकानों को बंद कर घरों में दुबकने को मजबूर हो जा रहे हैं। आसपास के गांवों से खरीददारी को बाजार पहुंचने वाले लोगों की संख्या में भी कमी आ चुकी है। कुछ लोग बाजार पहुंच भी रहे हैं तो वो भी समय पर गांवों को लौट जा रहे हैं।

दहशत में शिक्षा विभाग

गुलदार की आवाजाही तेज होने से शिक्षा विभाग भी सख्ते में आ गया है। काकड़ीघाट क्षेत्र में स्थित जीआईसी व प्राथमिक विद्यालय में अध्ययनरत नौनिहालों के स्वजनों को नौनिहालों को निगरानी में विद्यालय पहुंचाने व छुट्टी के समय विद्यालय पहुंचने की अपील की है। संकुल प्रभारी योगेश चंद्र के अनुसार बच्चों की सुरक्षा को देख अभिभावकों से विशेष अपील की है। स्थानीय लोगों ने अंदेशा जताया है की यदि जल्द हिंसक गुलदार पकड़ने को पिंजरा नहीं लगाया गया तो कभी भी बड़ी अनहोनी सामने आ सकती है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here