17.2 C
London
Friday, May 24, 2024
spot_img

घरेलू परेशानियां-पारिवारिक कलह से मुक्ति’ दिलाने वाला तांत्रिक खुद फंस गया पुलिस के जाल में, STF ने दिल्ली से दबोचा

ख़बर रफ़्तार, देहरादूनः उत्तराखंड एसटीएफ की टीम ने 15 हजार के इनामी फर्जी तांत्रिक सुलेमान बाबा को मधुविहार, दिल्ली से गिरफ्तार किया है. तांत्रिक ने हरिद्वार की महिला को उसकी घरेलू परेशानी को तंत्र मंत्र से दूर करने का झांसा देकर 40 लाख रुपए ऐंठ लिए थे. ठगी के बाद पिछले 2 साल से तांत्रिक फरार चल रहा था. पकड़े गए तांत्रिक के कई फर्जी नाम, तंत्र मंत्र के नाम पर कई लोगों से लाखों की ठगी कर चुका है. ठगी के रुपयों से आरोपी ने दिल्ली के रिहायशी इलाके में करोड़ों का फ्लैट खरीदा है.

एसटीएफ के मुताबिक, साल अप्रैल 2022 में हरिद्वार जिले के थाना गंगनहर में एक महिला ने सूचना दी कि उसके पति की मृत्यु कोरोना बीमारी के कारण मई 2021 में और देवर की मृत्यु जुलाई 2021 में हार्ट अटैक से हो गई थी. परिवार के दो सदस्यों के जाने से वह काफी परेशान थी. उसने अक्टूबर 2021 में टीवी देखते हुए एक इश्तिहार (विज्ञापन) पर सुलेमान बाबा उर्फ अरशद खान का मोबाइल नंबर देखा.

महिला ने नंबर पर बात की तो तांत्रिक ने पीड़िता को बताया कि उसके परिवार पर मौत का खतरा मंडरा रहा है. अभी और मौतें होनी है. इससे महिला काफी डर गई और उसने इलाज के बहाने तांत्रिक सुलेमान बाबा को करीब 40 लाख रुपए दे दिए. रुपए देने के बाद महिला ने इसबात की जानकारी परिवार के अन्य लोगों को भी दी. जिस पर अन्य लोगों ने महिला को ठगी की बात कही. इस पर महिला ने तांत्रिक के नंबर पर कॉल किया तो नंबर लगातार बंद आता रहा.

इसके बाद थाना गंगनहर में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया. मुकदमा दर्ज होने के बाद तांत्रिक सुलेमान बाबा तभी से फरार चल रहा था. जिसकी गिरप्तारी के लिए एसएसपी हरिद्वार ने टीम का गठन किया और आरोपी तांत्रिक के ऊपर 15 हजार रुपए ईनाम की घोषणा की.

15 मई 2024 को मामले में उत्तराखंड एसटीएफ को सूचना मिली कि तांत्रित सुलेमान बाबा आजाद अपार्टमेंट, मधुविहार दिल्ली में फ्लैट लेकर रह रहा है. जिस पर एसटीएफ की टीम ने दबिश देकर सुलेमान बाबा को मौके से गिरफ्तार किया और थाना गंगनहर हरिद्वार में दाखिल किया.

एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि अपराधी सुलेमान बाबा उर्फ अरशद उर्फ इंतजार उर्फ भूरा इस काम में पिछले 15 सालों से लिप्त है. उसके द्वारा पहले स्थानीय केवल नेटवर्क के जरिए ‘घरेलू परेशानियां, पारिवारिक कलह को झाड़–फूंक–तंत्र मंत्र से खत्म करना और वशीकरण आदि करने के लिए’ अपने तंत्र मंत्र का विज्ञापन दिया जाता है.फिर उससे संपर्क करने वालों से भारी मात्रा में रुपए ऐंठ लिए जाते हैं. आरोपी के खिलाफ 5 मामले पहले से दर्ज हैं, जिसमें 4 मामले थाना मधुविहार दिल्ली और 1 मामला थाना लाजपतनगर दिल्ली में दर्ज हुआ है.पकड़ा गया तांत्रिक दिल्ली मधुविहार क्षेत्र में एक रिहायशी अपार्टमेंट में फ्लैट खरीदकर रह रहा था. तांत्रिक ने अपने कई नाम रखे हैं जिससे वो आसानी पकड़ में नहीं आता था.

ये भी पढ़ेंः- इग्नू में जुलाई सेशन के लिए री-रजिस्ट्रेशन हुए शुरू, यहां से कर सकते हैं पंजीकरण

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here