10.7 C
London
Thursday, February 29, 2024
spot_img
spot_img

रानीखेत : पुलिस के हत्थे चढ़ा खाकी को चुनौती देने वाला शातिर नकाबपोश, चार माह में छह वारदातों को दिया अंजाम

- Advertisement -spot_imgspot_img

खबर रफ़्तार, रानीखेत : बैंक शाखाओं और एटीएम लूटने का प्रयास करने वाला सिरफिरा आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया। पता लगा है कि कोसी बाजार से लेकर बिंता घाटी तक चार माह में छह वारदातों में यही शातिर शामिल रहा। सीसीटीवी कैमरे में दिखी सफेद रंग की स्कूटी के नंबर ने अपराधी की कुंडली खोली। उसी लाइन पर जांच के साथ घेराबंदी बढ़ी।

नतीजतन पुलिस के लिए चुनौती बन चुका नकाबपोश तिखूनकोट की पहाड़ी से धर लिया गया। शुरूआती पड़ताल में आरोपित ने खुद को सेना का जवान बताया है। वास्तविकता जानने को जांच तेज कर दी गई है। स्कूटी की डिग्गी से तार काटने में प्रयुक्त कटर, प्लास, मंकी कैप व अन्य सामान बरामद हुआ है। गैस कटर नहीं मिला है। फिलहाल हवालात में रखे गए आरोपित से कड़ी पूछताछ की जा रही है। दोपहर बाद खुलासा कर उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

जनवरी दूसरे पखवाडा से लेकर अप्रैल आखिर तक बैंक शाखाओं, डाकघर व एटीएम को ही निशाना बनाने वाला नकाबपोश खाकी के लिए सिरदर्द बन गया था। लगातार वारदातों से पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में भी आ गई थी।

किरकिरी झेल रही पुलिस के लिए बीते बुधवार का दिन राहत भरा रहा। मजखाली, विजय चौक व द्योलीखेत में लगे सीसीटीवी कैमरों में रात में सफेद रंग की स्कूटी कैद हुई। पुलिस ने नंबर ट्रेस किया तो वाहन स्वामी की तलाश तेज की गई। मोबाइल नंबर की लोकेशन चेक करने पर खाकी हैरान तो हुई लेकिन गुडवर्क की उम्मीद भी जगी।

  • वारदात वाले स्थानों पर मौजूदगी के सबूत

संभावित नकाबपोश की धरपकड़ में हाथपांव मार रही पुलिस को स्कूटी स्वामी के मोबाइल की लोकेशन उन स्थानों पर मिलती गई, जहां-जहां वारदातें हुई थीं। पूछताछ के मकसद से बीती शाम पुलिस टीम ने स्कूटी वाले के दौलाघट के कोटुली गांव (हवालबाग ब्लाक) जाने की योजना बनाई।

इधर शुक्रवार को मजखाली से कोरीछीना गोविंदपुर दौलाघट रोड पर तिखूनकोट क्षेत्र में हनुमान मंदिर गेट के पास उसी नंबर की स्कूटी खड़ी मिली। संदेह पर पुलिस कर्मी मंदिर पहुंचे तो वहां संदिग्ध बैठा मिला। पूछताछ की गई। विभिन्न वारदातों में लिप्त अपराधी के बारे में सुराग जुटाने में मदद मांगी गई।

सख्ती पर आरोपित नवीन सिंह निवासी कोटुड़ी दौलाघट टूट गया और सब कुछ उगल दिया। पुलिस सूत्रों के अनुसार गिरफ्त में आए आरोपित को अदालत में पेश किया जाएगा।

  • दोतरफा जैकेट भी बनी मददगार

लगभी सभी वारदातों में नकाबपोश सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ। इनमें जैकेट व पिट्ठू बैग उसकी पहचान बना। पता लगा है कि आरोपित नीले रंग की डबल साइडेड जैकेट ही पहनता था। वहीं वह बिंता में हाफ जैकेट पहने दिखा है।

  • लोन चुकाने को चोरी का सहारा!

पुलिस सूत्रों के अनुसार शुरूआती पूछताछ में आरोपित नवीन सिंह ने बताया कि वह सेना में है। इन दिनों वह छुट्टी पर था। उसने करीब 15 लाख रुपये का ऋण लिया है। लोन कैसे चुकाए इसे लेकर वह तनाव में आ गया था। इसीलिए उसने बैंक शाखा व एटीम में चोरी की योजना बनाई। पुलिस सूत्रों ने यह भी बताया कि खुद को सेना का जवान बताने वाले नवीन सिंह को शुक्रवार को ही ड्यूटी ज्वाइन करने जाना था। इसमें कितनी सच्चाई है, सख्ती से जानकारी जुटाई जा रही है।

  • मंदिर से ही चुराया था सब्बल व सरिया

आरोपित नवीन सिंह ने सब्बल व सरिया तिखूनकोट स्थित हनुमान मंदिर से ही चुराए थे। फिर छिपाने के लिए इसी मंदिर में आ गया था। पुलिस सूत्रों का दावा है कि कुछ दिन शांत रहने के बाद यह शातिर एक और वारदात की फिराक में था। अल्मोड़ा व रानीखेत कोतवाली तथा द्वाराहाट थाने में मुकदमा दर्ज था।

  • अब तक वारदातों पर एक नजर

22 जनवरी: रानीखेत के मजखाली उपडाकघर के ताले तोड़े, सीसीटीवी कैमरे में कैद।
29 जनवरी : सोमेश्वर कौसानी हाईवे पर मनान में एसबीआइ शाखा में सेंध का प्रयास।
20 मार्च: कोसी बाजार में एसबीआइ शाखा के एटीएम गेट का ताला तोड़ा, सीसीटीवी में कैद।
22 मार्च: रानीखेत में गैस कटर से नैनीताल बैंक शाखा के गेट व चैनल समेत आठ ताले तोड़े। सीसीटीवी में कैद।
25 अप्रैल: रानीखेत में नैनीताल बैंक रोड पर एचडीएफसी का एटीएम उखाड़ा, सीसीटीवी में कैद।
29 अप्रैल: बिंता में अल्मोड़ा जिला सहकारी बैंक शाखा के ताले तोड़े, सीसीटीवी में कैद।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here