21.7 C
London
Monday, June 17, 2024
spot_img

बिजली आपूर्ति के दावों को गर्मी का झटका, ट्रांसफार्मर हो रहे ओवरलोड; फॉल्ट की शिकायत के लिए ये नंबर जारी

ख़बर रफ़्तार, मुरादाबाद:  गर्मी का मौसम बिजली विभाग के लिए बड़ी परेशानी बन चुका है। ट्रांसफार्मरों का तापमान कम करने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। शनिवार को शहर के कई बिजली उपकेंद्रों के ट्रांसफार्मर ओवरलोड हो गए। इस वजह से कई जगह आपूर्ति बाधित हुई। कांठ रोड पर रामगंगा विहार उपकेंद्र के ट्रांसफार्मर की ओवरलोडिंग और फाल्ट की वजह से लोगों को दुश्वारी का सामना करना पड़ा। वहीं शाम के समय आंधी की वजह से तापमान में गिरावट हुई।

बिजली व्यवस्था संभल नहीं पा रही है। विभागीय अधिकारियों के तमाम प्रयास के बाद भी फाल्ट और ट्रिपिंग का संकट बना हुआ है। हालात यह हो चुके हैं कि किसी भी समय ट्रिपिंग हो जाती है। दोपहर 12:45 बजे रामगंगा विहार सेल्सटैक्स चौराहा क्षेत्र की आपूर्ति बाधित हो गई। उपभोक्ताओं ने बिजली उपकेंद्र पर काल की तो पता चला कि ट्रांसफार्मर ओवरलोड होने की वजह से आपूर्ति बाधित हुई है।

दोपहर 3:38 बजे आपूर्ति सुचारू हो पाई। शाम के समय पीटीसी बिजली उपकेंद्र की 33 केवी लाइन पर फाल्ट हो गया। इस वजह से सिविल लाइंस क्षेत्र और कांठ रोड व आसपास की बिजली आपूर्ति बाधित हुई। बिजली उपकेंद्र के कर्मचारियों ने पेट्रोलिंग करके फाल्ट ठीक किया। इसके बाद नौ बजे के करीब आपूर्ति सुचारू हो पाई। वहीं दौलतबाग बिजली उपकेंद्र से जुड़े सभी फीडरों पर ट्रिपिंग का संकट बना रहा।

फीडरवार कटौती करके आपूर्ति सुचारू की गई। इसके साथ ही ट्रांसफार्मरों को भी ठंडा करने का प्रयास जारी रहा। अधिशासी अभियंता शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि बिजली आपूर्ति ठीक है। कहीं फाल्ट या अन्य समस्या होने पर उसे तत्काल ठीक कराया जा रहा है। जिससे उपभेाक्ताओं को परेशानी न हो सके। फाल्ट होने पर फौरन उपकेंद्र पर जानकारी दें।

इस नंबर पर दें फाल्ट की जानकारी

बिजली विभाग का मंडलीय कंट्रोल रूम बना हुआ है। बिजली कटौती, फाल्ट या फिर अन्य किसी भी समस्या के लिए उपभोक्ता 9193300109 पर काल करके जानकारी दे सकते हैं। इसके बाद कंट्रोल रूम कर्मचारी संबंधित बिजली उपकेंद्र के अवर अभियंता, एसडीओ से संपर्क कर समाधान कराएंगे। यह नंबर 24 घंटे लगातार चालू है।

कई उपकेंद्रों पर उपभोक्ताओं के लिए पानी तक नहीं

उपभोक्ता देवो भव:… बिजली विभाग ने जोर-शोर से यह स्लोगन दिया था। सभी बिजली उपकेंद्रों पर फ्लैक्सी के माध्यम से जागरूक भी किया गया था, लेकिन इन दिनों गर्मी अधिक होने की वह से धूप की बात तो छोड़िए टिनशेड के नीचे भी खड़ा होना मुश्किल है। बिजली उपकेंद्रों पर बिल जमा करने के लिए आने वाले उपभोक्ताओं के लिए पीने के पानी तक का इंतजाम नहीं है। उपभोक्ताओं के कंठ सूख रहे हैं। उपभोक्ता पसीना-पसीना हो रहे हैं।

स्थिति यह है कि अधिकारी सब उपकेंद्रों पर भरपूर पानी की व्यवस्था का दावा कर रहे हैं। लेकिन, उपभोक्ताओं को बिजली उपकेंद्रों पर पानी नहीं मिल रहा है। शनिवार की दोपहर में दैनिक जागरण टीम ने टैक्सी स्टैंड, टाउनहाल, गलशहीद, तहसील स्कूल, नवाबपुरा बिजली उपकेंद्रों पर व्यवस्था का जायजा लिया। यहां पीने के पानी की कोई व्यवस्था नहीं मिली। उपभोक्ताओं को चिलचिलाती धूप में कंठ को तर करने के लिए व्यवस्था नहीं मिली। बहरहाल अधिकारी व्यवस्था होने का दावा कर रहे हैं। देखने वाली बात यह होगी कि कब तक बिजली उपकेंद्रों पर पीने के पानी की व्यवस्था होगी।

ये भी पढ़ें…देहरादून में पेड़ों की छांव में होंगी सभी सड़कें, शहर के बिल्डर मार्ग को गोद लेकर करेंगे देखभाल

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here