21.7 C
London
Monday, June 17, 2024
spot_img

रेडियोलॉजिस्ट की तैनाती ना होने से मरीज परेशान, अल्ट्रासाउंड के लिए प्राइवेट क्लीनिकों का करना पड़ रहा रुख

ख़बर रफ़्तार, श्रीनगर: गढवाल क्षेत्र के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज में रेडियोलॉजी विभाग ठप है. यहां एक मात्र रेडियोलॉजिस्ट ने भी अपना कार्यकाल कॉलेज के साथ खत्म कर दिया है. यूं तो विभाग में एक प्रोफेसर,एक एसोसिएट,असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति होनी चाहिए थी, लेकिन फिलहाल तीनों में से एक भी पद यहां भरा नहीं गया है. वहीं अब मरीजों को बाहर से अल्ट्रासाउंड करवाना पड़ रहा है. जिससे लोगों की जेब पर असर पड़ रहा है. साथ में लोगों को भागा दौड़ी भी करनी पड़ रही है.

मेडिकल कॉलेज के बेस अस्पताल में वर्तमान में रेडियोलॉजिस्ट की तैनाती नहीं है. ऐसे में मरीजों को सीटी स्कैन व एमआरआई की सुविधा के लिए ना भटकना पड़े, इसके लिए टेक्नीशियन की ओर से मरीज का सीटी स्कैन व एमआरआई करने के बाद डाटा दिल्ली भेजा जा रहा है. इसके बाद वहां से ऑनलाइन रिपोर्ट मंगवाई जा रही है. लेकिन सबसे बड़ी दिक्कत अल्ट्रासाउंड में आ रही है. पिछले 10 दिनों से मरीज प्राइवेट सेंटरों से अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए मजबूर हैं. स्थानीय निवासी नरेश नौटियाल का कहना है कि मेडिकल कॉलेज को कम से कम दो रेडियोलॉजिस्ट की तैनाती की जानी चाहिए थी.

चारधाम यात्रा का भी श्रीनगर मुख्य पड़ाव है. यहां चमोली रुद्रप्रयाग,पौड़ी ,टिहरी से मरीज आते हैं, ऐसे में अल्ट्रासाउंड ना होना बड़ी परेशानी का सबब है. सबसे ज्यादा दिक्कत गर्भवती महिलाओं को उठानी पड़ रही है.वहीं बेस अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर अजय विक्रम सिंह ने बताया कि जल्द रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति के लिए प्रक्रिया शुरू की जा रही है. इसके लिए इंटरव्यू कॉल किये गए हैं. तीन पदों पर जल्द नियुक्ति कर दी जाएगी.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here