7.9 C
London
Tuesday, April 16, 2024
spot_img

कुशाग्र हत्याकांड: रचिता समेत तीनों हत्यारोपियों पर गैंगस्टर लगा, ट्यूशन टीचर ने वारदात को दिया था अंजाम

ख़बर रफ़्तार, कानपुर: कानपुर में रायपुरवा के कपड़ा व्यापारी मनीष कनौडिया के बेटे कुशाग्र के अपहरण और हत्या के तीनों आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है। रापुरवा पुलिस ने जिला कारागार में बंद तीनों हत्यारोपियों पर गैंगस्टर एक्ट तामील कर दिया है। 30 अक्तूबर 2023 की देर रात रायपुरवा निवासी हाईस्कूल के छात्र कुशाग्र कनौडिया के परिजनों ने उसके गुम होने की जानकारी पुलिस को दी।

उसके कुछ देर बाद ही परिजनों को एक फिरौती का पत्र मिला। जिस स्कूटी से लेटर डालने वाला गया था, उसे अपार्टमेंट के गार्ड ने पहचान कर परिजनों और पुलिस को बताया। देर रात पुलिस ने फजलगंज थाने के पास रहने वाली रचिता वत्स को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की।

रचिता कुशाग्र को ट्यूशन पढ़ाती थी। उसने अपने ओमनगर दर्शन पुरवा निवासी प्रेमी प्रभात शुक्ला के साथ मिलकर कुशाग्र को फिरौती के लालच में अगवा करने हत्या कर दी थी। प्रभात ने अपने घर में उसकी हत्या की थी, जहां से पुलिस ने उसका शव भी बरामद कर लिया था। इसमें प्रभात के साथी ओमनगर निवासी आर्यन उर्फ शिवा गुप्ता ने उसकी मदद की थी। रचिता, प्रभात व शिवा तीनों जेल में बंद है। डीसीपी सेंट्रल एसके गौतम ने बताया कि तीनों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है।

ये भी पढ़ें…लोकसभा चुनाव से पहले इस शहर में जब्‍त हुई करोड़ों की शराब, ड्रग व नकदी, जांच में खुला खेल

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here