25.6 C
London
Tuesday, June 25, 2024
spot_img

देहरादून में टिहरी की 7 और हरिद्वार की 3 विस सीटों की होगी मतगणना, 550 से ज्यादा काउंटिंग अधिकारी तैनात

ख़बर रफ़्तार, देहरादूनः उत्तराखंड की पांचों लोकसभा सीटों पर 19 अप्रैल को मतदान होने के बाद अब 4 जून को मतगणना होनी है. जिसकी तैयारी को अंतिम रूप देने की कवायद में निर्वाचन आयोग जुट गया है. लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर एक जून को सातवें यानी आखिरी चरण के मतदान होने के बाद जारी एग्जिट पोल के अनुसार भाजपा एक बार फिर प्रदेश की पांचों सीटें जीत रही है. ऐसे में काउंटिंग सेंटर के बाहर हंगामा होने के आसार भी जताए जा रहे हैं. जिसके मद्देनजर निर्वाचन आयोग काउंटिंग से एक दिन पहले यानी 3 जून को तैयारी को धार दे रहा है. ताकि शांतिपूर्ण ढंग से काउंटिंग कराकर चुनाव के नतीजे जारी कराया जा सके.

क्रिकेट स्टेडियम में 10 सीटों की मतगणना: देहरादून स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में टिहरी लोकसभा सीट की 7 विधानसभा सीट (राजपुर, चकराता, विकासनगर, कैंट, रायपुर, सहसपुर और मसूरी) और हरिद्वार लोकसभा सीट की तीन विधानसभा सीट (धर्मपुर, डोईवाला और ऋषिकेश) की मतगणना होनी है. जिसकी तैयारियों में जिला प्रशासन जुटा है. इसी क्रम में 4 जून को होने वाले काउंटिंग को लेकर सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में रिहर्सल किया गया. इस दौरान तमाम व्यवस्थाओं को जांचा गया. इसके साथ ही काउंटिंग के मद्देनजर सभी कर्मचारियों को ट्रेनिंग भी दी गई. इसके साथ ही काउंटिंग को लेकर चार ऑब्जर्वर भी देहरादून पहुंच गए, जिन्होंने खुद भी काउंटिंग सेंटर का निरीक्षण किया.

वहीं, ईटीवी भारत से बातचीत करते हुए देहरादून जिलाधिकारी एवं टिहरी लोकसभा सीट की रिटर्निंग ऑफिसर सोनिका ने बताया कि स्टेडियम में ही स्ट्रांग रूम बनाया गया था और यहीं पर काउंटिंग की जाएगी. स्टेडियम में 10 विधानसभा सीटों के ईवीएम के मतों की गणना और टिहरी लोकसभा की कुल पोस्टल बैलेट के मतों की गणना की जाएगी. इसके लिए कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जा रही है. साथ ही वो खुद और सभी एआरओ निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को देख रहे है.

550 से ज्यादा काउंटिंग अधिकारी तैनात: उन्होंने बताया कि सुबह 8 बजे से पोस्टल बैलेट की मतगणना शुरू हो जाएगी. इसके साथ ही सुबह 8:30 बजे से ईवीएम से मतों की गणना शुरू हो जाएगी. स्टेडियम में ईवीएम के लिए 14 टेबल रखी गई है. साथ ही पोस्टल बैलेट और डाक मतपत्र की गिनती के लिए 40-40 टेबल लगाए गई है. इसके अलावा 10 विधानसभा सीटों के लिए 4 ऑब्जर्वर बनाए गए हैं. इसके अलावा 550 से अधिक काउंटिंग अधिकारी तैनात किए गए हैं. इसके साथ ही अन्य विभागों के लोगों की भी ड्यूटी लगाई गई है.

विजय जुलूस के लिए लेनी होगी अनुमति: राजनीतिक पार्टियों के लिए काउंटिंग सेंटर में परिधि भी तय की गई है, जिसके तहत 100 मीटर तक किसी को आने की अनुमति नहीं होगी. इसको देखते हुए पहले ही पॉलिटिकल पार्टियों के साथ मीटिंग की गई थी. सभी को जानकारी दे दी गई थी कि धारा 144 लागू है. ऐसे में 100 मीटर की परिधि के भीतर विजय जलूस नहीं आएगा. अगर कोई राजनीतिक पार्टी विजय जुलूस निकालती है तो उससे पहले प्रशासन से अनुमति लेनी होगी.

ये भी पढ़ें- फ्री नक्शा पास करने पर HRDA और इंजीनियर एसोसिएशन के बीच विवाद सुलझा, गरीब तबके को मिलेगा लाभ

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here