10.1 C
London
Thursday, February 22, 2024
spot_img
spot_img

कांग्रेस बोली, ‘राहुल की कार पर नहीं हुआ हमला, ब्रेक लगने से हुआ हादसा’

- Advertisement -spot_imgspot_img

ख़बर रफ़्तार, देहरादून : पश्चिम बंगाल में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की कार का शीशा टूटने की खबर आई. कांग्रेस पार्टी ने इसपर सफाई दी है. पार्टी के अनुसार मालदा में राहुल से मिलने बड़ी भीड़ आई थी. इस भीड़ में एक महिला राहुल से मिलने अचानक उनकी कार के आगे आ गई, इस वजह से ब्रेक लगाई गई. तभी सुरक्षा घेरे में इस्तेमाल किए जाने वाले रस्से से कार का शीशा टूट गया. इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने कहा था कि राहुल गांधी की कार पर पत्थर फेंका गया, जिसकी वजह से शीशा टूट गया.

  • गलत खबर को लेकर स्पष्टीकरण

    पश्चिम बंगाल के मालदा में राहुल जी से मिलने अपार जनसमूह आया था। इस भीड़ में एक महिला राहुल जी से मिलने अचानक उनकी कार के आगे आ गई, इस वजह से अचानक ब्रेक लगाई गई।

    तभी सुरक्षा घेरे में इस्तेमाल किए जाने वाले रस्से से कार का शीशा टूट गया।

    जननायक…

    — Congress (@INCIndia) January 31, 2024 ” class=”align-text-top noRightClick twitterSection” data=”

    “>

 

हालांकि, थोड़ी देर बाद ही कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट कर सफाई दे दी.

  • गलत खबर को लेकर स्पष्टीकरण

    पश्चिम बंगाल के मालदा में राहुल जी से मिलने अपार जनसमूह आया था। इस भीड़ में एक महिला राहुल जी से मिलने अचानक उनकी कार के आगे आ गई, इस वजह से अचानक ब्रेक लगाई गई।

    तभी सुरक्षा घेरे में इस्तेमाल किए जाने वाले रस्से से कार का शीशा टूट गया।

    जननायक…

    — Congress (@INCIndia) January 31, 2024 ” class=”align-text-top noRightClick twitterSection” data=”

    “>

आपको बता दें कि राहुल गांधी इस समय भारत जोड़ो न्याय यात्रा का नेतृत्व कर रहे हैं. उनकी यात्रा प.बंगाल में है. अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार राहुल का काफिला मालदा के लभा पुल के पास पहुंचा था, उसी समय भीड़ बेकाबू हो गई. थोड़ी देर में ही राहुल गांधी जिस एसयूवी पर बैठे हुए थे, उसके पीछे का शीशा पूरी तरह से टूट गया.

हादसे के तुरंत बाद कांग्रेस नेताओं ने इस घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. पार्टी ने इसे सुरक्षा में चूक बता दिया था. हालांकि, स्थानीय प्रशासन ने कहा था कि भीड़ की वजह से शीशा टूटा था. पर कांग्रेस नेता ऐसा नहीं मान रहे थे.

दरअसल, आज ही मालदा में प.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की भी एक जनसभा होनी है. इसलिए सुरक्षा व्यवस्था को लेकर वहां पर सतर्कता बरती जा रही है. मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि अधिक से अधिक सुरक्षा बलों को रैली के लिए तैनात किया गया है, लिहाजा राहुल गांधी की सुरक्षा में बहुत अधिक पुलिसकर्मी मौजूद नहीं थे.

प.बंगाल प्रशासन का एक और बयान मीडिया में आया है. इसके अनुसार राहुल गांधी को मालदा के भालुका इरिगेशन बंगला में ठहरने की इजाजत नहीं मिली थी, जिसकी वजह से राहुल गांधी को कार्यक्रम में फेरबदल करना पड़ा था.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here