12.1 C
London
Monday, April 15, 2024
spot_img

अंकिता हत्याकांड: 18 सितंबर को रिजॉर्ट में मौजूद थी अंकिता, अदालत में इन दो गवाहों ने बताई पूरी कहानी

खबर रफ़्तार, देहरादून: अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश रीना नेगी की अदालत में शुक्रवार को अंकिता हत्याकांड के दो गवाहों के बयान दर्ज कराए गए। इनमें एक पुलिसकर्मी सज्जन सिंह और दूसरा वनंतरा रिजॉर्ट में इलेक्ट्रीशियन का काम करने वाला कुलदीप सिंह हैं। कोर्ट में दोनों ने एसआईटी को पूर्व में दिए गए बयानों को दोहराया।

कुलदीप ने बताया कि 18 सितंबर, 2022 को रिजॉर्ट में अंकिता मौजूद थी। लेकिन, अगले दिन उसके लापता होने की बात पर रिजाॅर्ट में हंगामा हो रहा था। विशेष लोक अभियोजक अवनीश नेगी ने बताया कि पुलिसकर्मी सज्जन सिंह फॉरेंसिक यूनिट श्रीनगर में तैनात है। वह एफएसएल प्रभारी उपनिरीक्षक संध्या नेगी की टीम के साथ 23 सितंबर, 2022 को वनंतरा रिजाॅर्ट में गया था।

उसने अंकिता भंडारी और हत्यारोपी पुलकित आर्य के कमरे की फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी अपने मोबाइल से की थी। सज्जन सिंह ने कोर्ट में वही बयान दिए जो पूर्व में फोरेंसिक टीम प्रभारी एसआई संध्या नेगी ने दिए थे। सज्जन ने बताया कि अंकिता के कमरे में रखे कांच के गिलास व प्लेट से फिंगर प्रिंट लेने की कोशिश की थी, लेकिन कोई भी फिंगर प्रिंट डेवलप नहीं हुआ। मोबाइल से खींची गई फोटो का प्रिंट निकालकर व वीडियोग्राफी पैन ड्राइव में लेकर लक्ष्मणझूला थाने में जमा करा दिए थे।

18 सितंबर को पुलकित आर्य रिजॉर्ट में गया
दूसरे गवाह इलेक्ट्रीशियन कुलदीप सिंह ने अदालत को बताया कि वह कोटद्वार का रहने वाला है। उसे ओएलएक्स के माध्यम से गंगाभोगपुर तल्ला के वनंतरा रिजार्ट में नौकरी पता चला था। 16 सितंबर को उसने पुलकित आर्य से फोन पर बात की थी। 18 सितंबर को वह रिजॉर्ट में गया था। उस दिन अंकिता भंडारी वहां पर मौजूद थी।

19 सिंतबर को जब वह रिजॉर्ट पहुंचा तो वहां अंकिता के लापता होने पर हंगामा हो रहा था। कुलदीप ने बताया कि वहां काम करने वाले अंकित और सौरभ ने उसे उसे एक पुराना डीवीआर सर्विस करने के लिए दिया। 20 सितंबर को उसने रिजॉर्ट में डीवीआर और कैमरे इंस्टाल किए। इस दौरान भी वहां हंगामा हो रहा था। बचाव पक्ष की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अनुज पुंडीर व जेएस रावत ने गवाहों से सवाल जवाब करते हुए उनकी प्रति परीक्षा ली।

22 सितंबर को अगली सुनवाई

शुक्रवार को गवाही के दौरान भी अदालत में तीनों हत्यारोपी पुलकित आर्य, सौरभ भास्कर और अंकित गुप्ता हाजिर रहे। एसआईटी की ओर से इस हत्याकांड मेंं 97 गवाह बनाए गए हैं। अब तक 19 लोगों की गवाही हो चुकी है। अगली सुनवाई 22 सितंबर को होगी। जिसके लिए दो गवाहों को अदालत की ओर से समन भेजे जा रहे हैं। .

क्या है मामला

पौड़ी जिले के गंगा भोगपुर के वनंतरा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के पद पर काम करने वाली अंकिता भंडारी की 18 सितंबर, 2022 को हत्या कर दी गई थी। 24 सितंबर, 2022 को पुलिस ने उसका शव चीला नहर से बरामद किया था। इस हत्याकांड की जांच एसआईटी ने की और करीब 500 पेज की चार्जशीट अदालत में पेश की। .

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here