17.9 C
London
Tuesday, July 23, 2024
spot_img

बारिश लैंडस्लाइड से अल्मोड़ा जिले की 6 सड़कें बंद, छात्रों को देर से मिली स्कूल में छुट्टी की सूचना, हुई फजीहत

ख़बर रफ़्तार, अल्मोड़ा: भारत मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम पूर्वानुमान के अनुसार अल्मोड़ा जिले में भारी बारिश होने की संभावना के तहत आज 3 जुलाई को भी स्कूलों में अवकाश किया गया है. जिलाधिकारी विनीत तोमर के निर्देश पर यह अवकाश घोषित किया गया है. दरअसल अल्मोड़ा में मंगलवार की शाम से बारिश जारी है.

जिलाधिकारी विनीत तोमर ने बताया कि भारत मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम पूर्वानुमान के अनुसार कुमाऊं के सभी जिलों के साथ अल्मोड़ा में भी भारी बारिश होने की संभावना जताई गई थी. इस दौरान किसी भी आपदा जैसे भूस्खलन, पेड़ों का गिरना या पहाड़ों से बोल्डर गिरना जैसी घटनाएं हो सकती हैं. मौसम विभाग ने अन्य जिलों के साथ साथ अल्मोड़ा जिले में भी भारी से भारी बारिश होने की आशंका जताई है. इसी के तहत जिलाधिकारी विनीत तोमर के निर्देशानुसार 3 जुलाई 2024 को जिले के सभी शासकीय, अशासकीय, अर्धसरकारी विद्यालयों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में कक्षा 1 से 12 तक के बच्चों का अवकाश घोषित किया गया है. जिलाधिकारी ने निर्देश दिए हैं कि उक्त विद्यालयों में समस्त स्टाफ उपस्थित रहेंगे.

स्कूल को निकल गए बच्चे तब आया छुट्टी का आदेश

मंगलवार दोपहर बाद से अल्मोड़ा जिले में लगातार बारिश हो रही है. इससे जहां तापमान में गिरावट दर्ज की गई है, वहीं लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हो गया है. तेज बारिश की चेतावनी को देखते हुए जिलाधिकारी विनीत तोमर ने बुधवार को स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों की छुट्टी का आदेश जारी कर दिया. लेकिन सुबह जब तक यह आदेश सर्कुलेट हुआ, तब तक अनेक स्कूलों में बच्चे पहुंच चुके थे. वहीं कुछ बच्चे स्कूल के लिए निकल चुके थे. इससे बच्चों एवं अविभावकों को फजीहत झेलनी पड़ी है. वहीं प्रशासन और शिक्षा विभाग में समन्वय की कमी दिखाई दी है.

मलबा आने से 6 सड़कें बंद

जिले के विभिन्न क्षेत्रों में मलबा आने से सड़क मार्ग अवरुद्ध होने की सूचनाएं आने लगी हैं. जिले में एक स्टेट हाइवे एवं पांच ग्रामीण सड़कें बंद हो गई हैं, जिन्हें खुलवाने के लिए जेसीबी भेजी गई हैं. बुधवार की सुबह जिले के एक स्टेट हाइवे 57 काफलीखान भनोली मलबा आने से बंद हो गया है. वहीं अल्मोड़ा सहित सल्ट और लमगड़ा क्षेत्र की कुल पांच ग्रामीण सड़कें भी मलबा आने से अवरुद्ध हो गई हैं. इन ग्रामीण सड़कों में सल्ट की चमकाना-अधथात और पेसिया-मल्ला गड़कोट सहित अल्मोड़ा की सदर-सकनाणा, दशोल मेल्टा तथा लमगड़ा की जैंती-नाया-संग्रोली सड़कों में भारी मलबा आने से वो बंद हो गई हैं. इस कारण इन सड़कों में आवागमन बंद हो गया है. आपदा प्रबंधन अधिकारी विनीत पाल ने बताया कि मार्गों को खोलने के लिए जेसीबी भेज दी गई हैं. सड़कों को खोलने का कार्य किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें:- टनकपुर तवाघाट एनएच पर हुआ भारी भूस्खलन, SSB के जवान ने भागकर बचाई जान; मची अफरा-तफरी

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here