21.7 C
London
Monday, June 17, 2024
spot_img

52 हजार वोटर ने किया नोटा का प्रयोग, अल्मोड़ा में सबसे अधिक

ख़बर रफ़्तार, देहरादून: प्रदेश में 52 हजार ऐसे मतदाता भी हैं, जिन्हें 55 में से किसी भी दल का या निर्दलीय कोई प्रत्याशी पसंद नहीं आया है। उन्होंने अपनी इस नापसंदगी को ईवीएम में नोटा का बटन दबाकर जाहिर किया है। प्रदेशभर में इस बार 52,630 मतदाताओं ने नोटा यानी नन ऑफ द एबव का प्रयोग किया।

अल्मोड़ा में सर्वाधिक 16,697 मतदाताओं ने नोटा का बटन दबाया। गढ़वाल में 11,224, नैनीताल में 10,425, टिहरी में 7458 और हरिद्वार में 6826 मतदाताओं ने नोटा का प्रयोग किया है। खास बात ये है कि केवल ईवीएम ही नहीं बल्कि पोस्टल बैलेट में भी नोटा के मत निकले हैं।

हरिद्वार के पोस्टल बैलेट में 163, नैनीताल के पोस्टल बैलेट में 198, टिहरी के पोस्टल बैलेट में 154 ने नोटा पर मुहर लगाई है। गढ़वाल और अल्मोड़ा में भी बड़ी संख्या में मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया है। गढ़वाल और अल्मोड़ा सीटें ऐसी हैं, जहां के सबसे ज्यादा प्रतिशत मतदाता किसी प्रत्याशी को पसंद ही नहीं करते। अल्मोड़ा में 2.56 और गढ़वाल में 1.57 प्रतिशत मतदाताओं ने नोटा दबाया है।

कई सीटों पर नोटा मतदाता तीसरे स्थान पर

अल्मोड़ा के सात प्रत्याशियों में भाजपा-कांग्रेस के बाद नोटा के वोट ही तीसरे नंबर पर हैं। बाकी प्रत्याशी नोटा से कम वोट हासिल कर पाए हैं। गढ़वाल लोकसभा में भी भाजपा-कांग्रेस के बाद नोटा के वोट ही तीसरे स्थान पर रहे हैं। हरिद्वार में 14 प्रत्याशी थे लेकिन नोटा यहां पांचवें स्थान पर रहा। नैनीताल में नोटा के मत चौथे स्थान पर रहे। टिहरी लोकसभा में भी पांचवें स्थान पर नोटा रहा है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here