25.6 C
London
Tuesday, June 25, 2024
spot_img

10 घंटे का इंतजार, लंबी-लंबी लाइनें, ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन में फूले श्रद्धालुओं के हाथ-पांव

ख़बर रफ़्तार, ऋषिकेश: चारधाम यात्रा के लिए ऑफलाइन पंजीकरण खुलने के बाद ऋषिकेश में फिर से श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ गई है. श्रद्धालु पंजीकरण करवाने के लिए काफी उत्साहित दिख रहे हैं. बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने की वजह से एक बार फिर से व्यवस्थाएं भी चरमराती भी नजर आ रही हैं.

ऋषिकेश में प्रत्येक धाम के लिए 1500 श्रद्धालुओं के लिए ऑफलाइन पंजीकरण किए जा रहे हैं. इस हिसाब से चारों धाम के लिए 6000 श्रद्धालुओं का पंजीकरण ऋषिकेश में किया जा रहा है. सीओ संदीप नेगी के नेतृत्व में आईएसबीटी चौकी प्रभारी नवीन डंगवाल सहित कई पुलिसकर्मी ऋषिकेष पंजीकरण ऑफिस में व्यवस्थाएं बनाने में जुटे हैं. अपर आयुक्त गढ़वाल नरेंद्र सिंह ने बताया ऑफलाइन पंजीकरण कराने के लिए हजारों श्रद्धालु ऋषिकेश पहुंच रहे हैं. सभी को एक दिन में पंजीकरण उपलब्ध कराकर चार धाम यात्रा पर भेजना मुश्किल है. इसलिए प्रशासन सभी श्रद्धालुओं से पंजीकरण कराने के लिए एक दिन का इंतजार करने की अपील कर रहा है.

अपर आयुक्त गढ़वाल नरेंद्र सिंह ने बताया प्रत्येक दिन प्रत्येक धाम के लिए 1500 श्रद्धालुओं का पंजीकरण करके उनको यात्रा मार्ग पर भेजा जा रहा है, जो श्रद्धालु स्लॉट खत्म होने के बाद लाइन में लगे हुए बच रहे हैं, उन्हें अगले दिन का देकर अगले दिन पंजीकरण में प्राथमिकता दी जा रही है. चारों धामों में निश्चित संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं. जिससे श्रद्धालुओं को सुगम और सुरक्षित दर्शनों का लाभ मिल रहा है. उन्होंने कहा चारधाम यात्रा व्यवस्थित तरीके से चले सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता यही है.

चारधाम यात्रा के लिए पंहुच रहे श्रद्धालुओं की ऋषिकेश में बड़ी भीड़ है. रजिस्ट्रेशन के लिए 10 घंटे लाइन में लगने के बाद भी नंबर नहीं आ पा रहा है. जिसके कारण श्रद्धालु परेशना भी दिखाई दे रहे हैं. वहीं, परिवहन व्यवसायियों ने प्रशासन की व्यवस्थाओं को फेल बताया है.

पढ़ें- 38 लूट और चोरी करने वाला शातिर चढ़ा उत्तराखंड STF के हत्थे

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here