21.8 C
London
Tuesday, June 25, 2024
spot_img

कहां और कैसे बनी प्रभास की हाइटेक रोबोटिक कार? आनंद महिंद्रा की टीम ने किया चमत्कार

ख़बर रफ़्तार, नई दिल्ली:  प्रभास की फिल्म कल्कि 2898 AD (Kalki 2898 AD) की रोबोटिक कार बुज्जी लगातार चर्चा में बनी हुई है। अब तक फिल्म को लेकर कई अपडेट्स आ चुकी हैं, लेकिन सबसे ज्यादा ध्यान बुज्जी ने खींचा। बीते दिन हैदराबाद में एक ग्रैंड इवेंट के दौरान बुज्जी ने डेब्यू किया। प्रभास अपनी इस धासू कार को दुनिया के सामने लेकर आए। फिल्म में ये कार एक खास किरदार अदा कर रही है, जिसकी आवाज साउथ की फेमस एक्ट्रेस कीर्ति सुरेश बनी हैं।

कल्कि 2898 AD की हाइटेक कार फिल्म में प्रभास की कूल फ्रेंड होगी, जो एक्टर से बात भी करेगी, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस कार को कैसे और कहां डिजाइन किया गया ?

किसने किया बुज्जी डिजाइन ?

कल्कि 2898 AD को बनाने में डायरेक्टर नाग अश्विन कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। बुज्जी उनके दिमाग की ही उपज है। नाग अश्विन ने कल्कि 2898 AD की इस खास कार को डिजाइन करने के लिए भारत के बड़े बिजनेसमैन आनंद महिंद्रा की कंपनी से मदद ली। बुज्जी के लॉन्च के बाद आनंद महिंद्रा ने खुद बताया कि है ये हाइटेक कार उनकी कंपनी ने डिजाइन की है।

आनंद महिंद्रा ने की तारीफ

कल्कि 2898 AD को लेकर आनंद महिंद्रा ने एक्स पर एक ट्वीट शेयर किया है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि बुज्जी को चेन्नई में महिंद्रा रिसर्च वैली में डिजाइन किया गया है। पोस्ट में उन्होंने नाग अश्विन और कल्कि 2898 AD के मेकर्स की बड़ा सोचने के लिए तारीफ भी की।

कौन है बुज्जी का मास्टरमाइंड ?

आनंद महिंद्रा ने इसके साथ नाग अश्विन के साथ एक्स पर हुई एक पुरानी चैट की फोटो भी शेयर की है। जिसमें बुज्जी के लिए नाग अश्विन, आनंद महिंद्रा से मदद मांगते हुए दिख रहे हैं। आनंद महिंद्रा ने पोस्ट में कहा, “सच में मजेदार चीजें एक्स पर होती हैं… हमें नाग अश्विन और उनके फिल्म निर्माताओं की जमात पर बहुत गर्व है, जो बड़ा सोचने से नहीं डरती… और मेरा मतलब सच में बड़ा है…।”

यह भी पढ़ें- राजस्थान सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा स्थगित, 26 मई नहीं अब 16 जून को होगा प्रीलिम्स

कहां और कैसे बनी बुज्जी ?

बुज्जी के डिजाइन को लेकर जानकारी देते हुए उन्होंने आगे कहा, “चेन्नई में महिंद्रा रिसर्च वैली में हमारी टीम ने पावरट्रेन कॉन्फिगरेशन, आर्किटेक्ट और परफॉर्मेंस के जरिए फ्यूचर की कार को लेकर कल्कि टीम के विजन को साकार करने में मदद की। सच में ये कार पीछे के पहिये को शक्ति देने वाले दो महिंद्रा ई-मोटर्स पर चलता है! और जयेम ऑटोमोटिव्स इसे एक साथ लेकर आए….अब खेल शुरू होगा।”

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here