10.5 C
London
Monday, July 15, 2024
spot_img

उत्‍तराखंंड: इस शहर के नदी और गधेरों में नहाने पर पड़ेगा भारी जुर्माना, होगी गिरफ्तारी

ख़बर रफ़्तार, भीमताल : उत्‍तराखंड के भीमताल में लोगों को नदियों, गाड़-गधेरों, तालाब और पोखरों में नहाना भारी पड़ सकता है। पदमपुरी गौला की सहायक नदी कलसा और उसमें बने परीताल में नहाते हुए बीते तीन वर्षों में चार लोगों की मौत हो गई थी।

जिसके बाद धारी एसडीएम ने गौला, कलसा नदी और उसकी सहायक नदियों, परीताल, भालूगाड़, हरीशताल, लोहाखाम ताल के साथ परगना धारी की सीमा में अवस्थित समस्त नदियों, गाड़-गधेरों, तालाब और पोखरों में लोगों के नहाने पर रोक लगा दी है।

धारी एसडीएम के एन गोस्वामी ने बताया कि उन्होंने गौला की सहायक नदियों में विशेषतया वर्षाकाल, मानसून सत्र में तीव्र प्रवाह के कारण जनहानि को देखते हुए आवागमन प्रतिबंधित किया है।

गोस्वामी ने अधिशासी अभिंयता सिंचाई हल्द्वानी को आदेशित किया है कि उक्त नदियों, सहायक नदियों एवं तालों में लाल रंग में मुद्रित प्रतिबंधित साईन बोर्ड लगाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि प्रतिबंधित क्षेत्र की नदियों एवं तालों में कोई भी व्यक्ति स्नान और जलक्रीडा करते हुए पकड़ा गया तो भारतीय सुरक्षा संहिता 2023 की धारा 40 के तहत संबधित व्यक्ति की गिरफ्तारी की कार्रवाई की जाएगी।

पंप हाउस की पैनल व मोटरें फुंकी, दर्जनभर गांवों की पेयजल आपूर्ति हुई ठप

बाजपुर। जल संस्थान के पेयजल टैंक परिसर में बाढ़ व बारिश का पानी भरने के कारण पंप हाउस व ट्यूबवेल की दोनों मोटरें फुंक जाने से लगभग 12 गांवों व शहरी क्षेत्र की पेयजल आपूर्ति बाधित हो गई है। जिसके चलते पिछले 24 घंटों से भी अधिक समय से लगभग एक हजार परिवार पेयजल से वंचित हो गए हैं।

पेयजल पंप हाउसों में पानी भरने के कारण मोटर पैलन, स्टेपलाइजर्स, 15 व 25 हाउस पावर की दो मोटरें आदि फुंक जाने के कारण शहरी क्षेत्र में मोहल्ला मुड़िया पिस्तौर, वार्ड-2, 5, 6 के साथ ही मुड़िया पिस्तौर देहात, चकरपुर, मुड़िया मनी, गुड़िया अनी, दोराहा, गुमसानी, तालीफार्म, मुड़िया कलां आंशिक, हरलालपुर, बहादुरगंज आदि गांवों की पेयजल आपूर्ति बाधित हो गई है।

अवर अभियंता हरेंद्र सिंह ने बताया कि अस्थाई व्यवस्था का 15 हास पावर एक मोटर शुरू की गई है। जिससे कुछ क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति सुचारु की जा रही है। कुछ लाइनें बरसात के चलते क्षतिग्रस्त हुई हैं। उन्हें सही करवाया जा रहा है।

लोक निर्माण विभाग के अतिथिगृह के सामने लेवड़ा नदी किनारे बने पंप हाउस में बाढ़ व बरसात का पानी भरने से पैनल फुंक गया है। जल संस्थान के कर्मचारी लगातार काम करके व्यवस्था को दुरुस्त करने का प्रयास कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें…प्रेमिका का शादी से इनकार करना पड़ा भारी, नाराज प्रेमी ने माता-पिता को उतारा मौत के घाट

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here