10.1 C
London
Thursday, February 22, 2024
spot_img
spot_img

खटीमा के सर्राफा व्यापारी ने कार के सीट की फोम निकालकर बनाया था लॉकर, छिपाकर ला रहे थे 70 लाख कैश और साढ़े, 11 किलो चांदी,पुलिस ने धर दबोचा

- Advertisement -spot_imgspot_img

ख़बर रफ़्तार ,किच्छा : ऊधमसिंह नगर जिले की पुलभट्टा पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान खटीमा के सर्राफा व्यापारी की कार से लाखों की नकदी के साथ ही भारी मात्रा में चांदी बरामद की है। जिसके बाद आयकर विभाग की टीम भी पुलभट्टा पहुंच गई। इस दौरान वाहन में सवार लोग बरामद नकदी व चांदी के संबंध में कोई जानकारी नहीं दे पाए।

 

 

एसओ पुलभट्टा कमलेश भट्ट बुधवार दोपहर वाहन चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान सितारगंज की तरफ से तेज गति से आ रही आई-10 कार नंबर यूके 06 डब्ल्यू 6257 के चालक ने वाहन को तेजी से बरेली की तरफ मोड़ दिया। शक होने पर पुलिस ने घेराबंदी कर कार को रोक उसकी तलाशी ली तो कार से 63 लाख 70 हजार रुपये नकद व लगभग सात लाख रुपये कीमत की 11.580 किग्रा चांदी बरामद कर ली।

कार सवार दोनों लोगों ने अपने नाम मीनाक्षी ज्वैलर्स खटीमा के अनुपम वर्मा, अमित वर्मा पुत्रगण मुकेश वर्मा निवासी कोतवाली के पीछे खटीमा बताया। दोनों से जब बरामद नकदी व चांदी के संबंध में आवश्यक पत्रावली मांगी तो दोनों इस संबंध में कोई भी कागज नहीं दिखा सके।

वहीं कार चालक विनोद कुमार पुत्र फकीर चन्द निवासी कुमरा थाना खटीमा द्वारा कार के कोई कागज न दिखाए जाने पर मोटर अधिनियम के तहत सीज करने के साथ ही बरामद नकदी व चांदी को दाखिल कर दिया गया। पुलभट्टा पुलिस ने डायरेक्टर आयकर आशीष कुमार श्रीवास्तव व आइटीओ सुनील कुमार मिश्रा को सूचना दी। जिस पर आइटीओ सुनील कुमार मिश्रा मौके पर पहुंच गए थे।

कार की पिछली सीट का फोम निकाल बनाया था लॉकर

कार की पिछली सीट में पीठ की तरफ लगे फोम को बाहर निकाल कर वहां पर एक लॉकर फिट किया गया था। उस लॉकर में ही नकदी व चांदी को छिपा कर रखा गया था। नकदी व चांदी को उन्होंने इस कदर सफाई के साथ रखा गया था कि उसे आसानी से पकड़ा जाना संभव नहीं था। पुलिस को देख कर अगर वह भागने का प्रयास नहीं करते तो शायद पुलिस कार से नकदी व चांदी बरामद नहीं कर पाती।

ये रहे पुलिस टीम में शामिल

नकदी व चांदी बरामद करने वाली टीम में एसओ पुलभट्टा कमलेश भट्ट के साथ बरा चौकी प्रभारी सुरेंद्र सिंह रिंगवाल, कांस्टेबल ललित चौधरी, रविकांत शुक्ला, फिरोज खान, महेन्द्र सिंह, प्रकाश टम्टा, अर्पित कुमार सहित महिला कांस्टेबल हेम मेहता शामिल थे।

आयकर विभाग की टीम ने दर्ज किए बयान

आयकर विभाग की टीम ने मौके पर पहुंच कर अपनी जांच शुरू कर दी थी। आइटीओ सुनील कुमार मिश्रा ने मीनाक्षी ज्वैलर्स के दोनों सर्राफा व्यापारी अनुपम वर्मा, अमित वर्मा पुत्रगण मुकेश वर्मा निवासी कोतवाली के पीछे खटीमा से पूछताछ कर दानों के बयान दर्ज किए।

आयकर विभाग की टीम लगातार दोनों से बरामद नकदी व चांदी के संबंध में जानकारी ले रही। आइटीओ सुनील कुमार ने बताया उच्चाधिकारियों को सूचित कर दिया गया है। उनके निर्देशानुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी
- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here