8 C
London
Tuesday, April 16, 2024
spot_img

भुच्चो के पास हुए ब्लाइंड मर्डर की पुलिस ने सुलझाई गुत्थी, छह नामजद आरोपियों में से तीन गिरफ्तार

ख़बर रफ़्तार, बठिंडा: बीती 22 मार्च को भुच्चो मंडी के गांव लहरा सौधा में एक युवक को रास्ते में रोककर बेरहमी से हमलाकर हत्या करने के मामले को बठिंडा पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में सीआईए स्टाफ वन ने छह लोगों को नामजद कर तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि तीन आरोपित अभी फरार हैं।

पुलिस इन आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही है और पुलिस का दावा है कि जल्द ही उक्त तीनों आरोपित भी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे। वहीं, पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपितों से वारदात में इस्तेमाल किए हथियार, मोटरसाइकिल व अन्य सामान भी बरामद किए हैं।
पुरानी रंजिश के चलते दिया वारदात को अंजाम

हत्या करने वाले आरोपियों ने कबूल किया है कि उनके एक साथी की मृतक के साथ पुरानी रंजिश थी। इसी रंजिश के चलते उन्होंने मनप्रीत सिंह निवासी गांव मेहराज की हत्या की है। फिलहाल पुलिस ने आरोपियों को रिमांड में हासिल कर पूछताछ कर रही है, जबकि तीन आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

पहले मारी टक्कर फिर तेजधार हथियार से किया था हमला

एसएसपी दीपक पारीक और एसपी (डी) अजय गांधी ने बताया कि बीती 22 मार्च 2024 को मनप्रीत सिंह निवासी पत्ती सौल, गांव मेहराज, जिला बठिंडा, हाल आबाद भुच्चों मंडी शाम के समय काम से वापिस अपने घर की तरफ जा रहा था। इस दौरान गांव लेहरा सौधा के पास पहले एक कार ने मनप्रीत सिंह को टक्कर मारी। वहीं थोड़ा आगे बस अड्डा लेहरा सौधा के पास कुछ अज्ञात लोगों ने उसे घेरकर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया, जिससे मनप्रीत सिंह को गंभीर चोटें आईं। आसपास इकट्ठा हुए लोगों ने इलाज के लिए मनप्रीत सिंह को रामपुरा के अस्पताल में भर्ती करवाया।

ये भी पढ़ें- केक खाने से हुई बच्ची की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग की टूटी नींद, बेकरी और दुकानों पर की छापेमारी

24 मार्च को मनप्रीत सिंह की हुई थी मौत

इलाज के दौरान बीती 24 मार्च 2024 को मनप्रीत सिंह की मौत हो गई। इस मामले में बठिंडा पुलिस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ थाना नथाना में हत्या का केस दर्ज किया था। एसपी (डी) अजय गांधी ने बताया कि इस घटना का पता लगाने के लिए डीएसपी (डी) राजेश कुमार व डीएसपी भुच्चो हर्षप्रीत सिंह के नेतृत्व में सीआईए स्टाफ 1 व 2 की टीमों का गठन किया गया था। सीआईए स्टाफ-1 टीम ने मामले की विभिन्न पहलुओं पर जांच करते हुए उक्त घटना को ट्रेस कर लिया गया।

छह आरोपियों पर दर्ज हुआ नामजद केस

सीआईए-स्टाफ 1 की टीम द्वारा उक्त घटना का पता लगाने के लिए तकनीकी और खुफिया सूत्रों की मदद से 6 लोगों की पहचान की गई। जिनमें से छह आरोपियों को उक्त मामले में केस में नामजद किया गया था, जिसमें बीती दो अप्रैल 2024 को मामले में तीन आरोपियों बलजीत सिंह उर्फ बिल्ला, बलजीत राम उर्फ बल्लू, सुखदेव राम उर्फ सुक्खा निवासी गांव उगोके जिला बरनाला को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि बाकी तीन आरोपियों की तलाश जारी है।

तीन आरोपियों की तलाश कर रही पुलिस

सीआईए-1 की पुलिस टीम ने आरोपी बलजीत सिंह उर्फ बिल्ला को दाना मंडी उगोके से गिरफ्तार किया है, जबकि राम उर्फ बल्लू , सुखदेव राम उर्फ सुक्खा को काले रंग की बिना नंबर वाली मोटरसाइकिल और एक कापा (टोका) के साथ गिरफ्तार किया गया। तीन आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न टीमों द्वारा छापेमारी की जा रही है। आरोपितों पूछताछ में कबूल किया है कि हरप्रीत सिंह उर्फ धक्कन का मृतक मनप्रीत सिंह से पुराना झगड़ा था और उसे मारने के लिए उसने अपने पांच अन्य साथियों की मदद ली थी।

 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here