10.7 C
London
Thursday, February 29, 2024
spot_img
spot_img

पीएम आवास योजना से बनाए गए मकान में बुजुर्ग की गला रेतकर हत्या, कांड का पर्दाफाश करने में लगी पुलिस

- Advertisement -spot_imgspot_img

ख़बर रफ़्तार, रुद्रपुर:  उत्तर प्रदेश के बिलासपुर थाना क्षेत्र के सेठी कालोनी में जमीनी विवाद में बुजुर्ग की गला रेतकर हत्या कर दी गई। इसका पता चलते ही स्वजन में कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंची बिलासपुर थाना पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बिलासपुर भेज दिया। पुलिस के मुताबिक हत्या रात दो से तीन बजे के बीच हुई है। पुलिस हत्यारोपित की तलाश में जुटी हुई है। संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के मुताबिक रामपुर थाना बिलासपुर के ग्राम डिबडिबा स्थित सेठी कालोनी निवासी 70 वर्षीय मुसाफिर साहनी पुत्र स्व. जलधारी साहनी पत्नी सुदामिया देवी और पुत्र धर्मेंद्र साहनी के परिवार के साथ रहते हैं। जबकि एक पुत्र की पहले ही मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि सेठी कालोनी में इनका करीब दो सौ 17 गज का एक प्लाट है। जिसे लेकर एक बिल्डर से उनका भूमि विवाद चल रहा है।

पीएम आवास से बनाए गए मकान में की हत्या

बुधवार को मुसाफिर साहनी की पत्नी दवा लेने रुद्रपुर भूरारानी आई हुई थी। रात अधिक होने के कारण वह अपनी भूरारानी में रहने वाली पुत्री रीता देवी के घर पर ही रुक गई थी।  रात को मुसाफिर साहनी खाना खाने के बाद प्रधानमंत्री आवास से बनाए गए मकान में सोने चले गए थे। इस बीच मुसाफिर साहनी के कमरे में घुसकर हत्यारोपितों ने धारदार हथियार से उसका गला रेतकर हत्या कर दी।

गुरुवार सुबह साढ़े सात बजे जब मुसाफिर साहनी का पोता शंकर शौच करने के लिए आया तो अपने दादा का खून से सना शव देख उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। शोर शराबा होने पर परिवार के अन्य सदस्यों के साथ ही आसपास के लोग भी पहुंच गए और पुलिस को सूचना दी। सूचना पर बिलासपुर सीओ, कोतवाल बलवान सिंह, रुद्रबिलास चौकी प्रभारी अमित कुमार पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे और जानकारी ली।

बाद में पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ कर शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। कोतवाल बिलासपुर बलवान सिंह ने बताया कि जमीनी विवाद में हत्या की बात सामने आ रही है। हत्या रात दो से तीन बजे के बीच होने की संभावना है। हत्यारोपितों की तलाश की जा रही है, इसके लिए कुछ संदिग्धों से भी पूछताछ की जा रही है, जल्द ही हत्या का पर्दाफाश कर लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें – गोली लगने के बाद भी ध्वजारोहण, संविधान की शपथ दिलाई

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here