6.2 C
London
Tuesday, April 23, 2024
spot_img

देहरादून एयरपोर्ट: गर्मियों में उत्‍तराखंड आने वाले पर्यटकों के लिए दून से संचालित होंगी 23 हवाई उड़ानें, समय सारिणी जारी

ख़बर रफ़्तार, डोईवाला: ग्रीष्मकाल में देहरादून एयरपोर्ट से विभिन्न शहरों के लिए 25 हवाई उड़ानें संचालित की जाएंगी। एयरपोर्ट प्रबंधन ने नई समय सारिणी जारी कर दी हैं। इसमें शीतकाल की तुलना में सात उड़ानें बढ़ाई गई हैं।

ग्रीष्मकालीन समय सारिणी 31 मार्च से प्रभावी होगी। वर्तमान में यहां से प्रतिदिन 18 उड़ानें संचालित की जा रही हैं। देहरादून से अयोध्या हवाई सफर के लिए यात्रियों को अभी इंतजार करना पड़ेगा। नई समय सारिणी में दून-अयोध्या के लिए अभी कोई स्लाट नहीं मिल पाया है।
एयरपोर्ट के निदेशक प्रभाकर मिश्रा ने बताया कि एयरपोर्ट से दिल्ली, मुबंई, अहमदाबाद ,जयपुर , हैदराबाद, अमृतसर, लखनऊ, पुणे, बेंगलुरु, हिसार के लिए फ्लाइट संचालित हो रही हैं। राज्य के भीतर भी फ्लाइट संचालित की जा रही हैं।

सात फ्लाइट बढ़ाई

यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए ग्रीष्मकालीन समय सारिणी में सात फ्लाइट बढ़ाई जा रही है। जिससे यहां से बाहर जाने वाले और बाहर से उत्तराखंड आने वाले यात्रियों को सुविधा मिल सके। उन्होंने बताया कि ग्रीष्मकाल में इंडिगो एयरलाइंस की प्रतिदिन 18 उड़ानें होंगी। इसके अलावा एलाइंस एयरलाइंस की चार फ्लाइट, फ्लाइबिग एयरलाइंस की एक और विस्तारा एयरलाइंस की दो उड़ानें संचालित होंगी।

पिथौरागढ़ के लिए प्रतिदिन संचालित होगी फ्लाइट

एयरपोर्ट के उप महाप्रबंधक नितिन कादयान ने बताया कि ग्रीष्मकालीन समय सारिणी में पिथौरागढ़ के लिए देहरादून एयरपोर्ट के लिए प्रतिदिन फ्लाइट संचालित होगी। पंतनगर के लिए सप्ताह में चार दिन फ्लाइट संचालित हो रही है।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में अयोध्या के लिए 31 मार्च तक फ्लाइट सप्ताह में तीन दिन संचालित हो रही है। लेकिन, नए शिड्यूल में अयोध्या की उड़ान शामिल नहीं है। लेकिन अयोध्या जाने वाले यात्रियों को देखते हुए वहां के लिए फ्लाइट संचालित करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें…बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड: कातिल नौ दिन तक काल बनकर घूमते रहे नहीं लगी भनक, गुरुद्वारा में ही लिया था कमरा

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here