6.2 C
London
Tuesday, April 23, 2024
spot_img

कमलनाथ के बाद अब एक और कद्दावर नेता के कांग्रेस छोड़ने की अटकलें, भाजपा में हो सकते हैं शामिल

ख़बर रफ़्तार, नई दिल्ली:  विपक्षी गठबंधन इंडिया टूटने की आशंका के बीच कांग्रेस के अंदर ही बड़ी टूट की संभावना जताई जा रही है। कमलनाथ के बाद एक और बड़े नेता के पाला बदलने की बातें सामने आ रही है।

मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया है कि कांग्रेस नेता और पंजाब के आनंदपुर साहिब से लोकसभा सांसद मनीष तिवारी बीजेपी के संपर्क में हैं और पार्टी छोड़ सकते हैं। हालांकि, इस संबंध में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

मनीष तिवारी के भाजपा में जाने की अटकलें

अगर अफवाहें कायम रहती हैं और तिवारी कांग्रेस से सारे रिश्ते तोड़ कर भगवाधारी बन सकते हैं। यह कांग्रेस के लिए एक बड़ा झटका होगा, जब एक और पुराने नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ के भी भाजपा में शामिल होने की अटकलें हैं।

हालांकि, मनीष तिवारी के एक करीबी सूत्र ने कहा कि कांग्रेस के पुराने नेता को भाजपा से जोड़ने की अटकलें ‘बकवास’ है, क्योंकि वह अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के लिए काम करने में व्यस्त हैं। कांग्रेस सूत्र ने कहा कि वो अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के लिए काम कर रहे हैं और उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलें झूठी और निराधार हैं।

कमलनाथ के भी भाजपा में शामिल होने की चर्चा

कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ के पसंदीदा लोकसभा क्षेत्र छिंदवाड़ा का अपना दौरा बीच में छोड़कर शनिवार को दिल्ली हवाईअड्डे पर पहुंचे कमलनाथ और उनके सांसद बेटे नकुलनाथ के भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज हो गईं।

इससे पहले, पूर्व कांग्रेस नेता और वर्तमान भाजपा प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा की एक पोस्ट ने कमलनाथ के भाजपा में आने की बातों को और हवा देने का काम किया था। सलूजा ने शनिवार को बेटे नकुल के साथ कमलनाथ की एक तस्वीर पोस्ट की और ‘जय श्री राम’ लिखा।

नकुलनाथ के बायो से हटा कांग्रेस शब्द

इसके अलावा, कई मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया कि छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ ने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर अपने बायो से ‘कांग्रेस’ शब्द हटा दिया है। हालांकि, उनके ऐसा करने की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई।

वास्तव में, यह दावा किया गया था कि उन्होंने सोशल मीडिया हैंडल पर अपने बायो में कभी भी कांग्रेस का उल्लेख नहीं किया।

कई नेता पहले ही दे चुके कांग्रेस को झटका

लोकसभा चुनाव से पहले अगर ये नेता कांग्रेस छोड़ते हैं तो ये पार्टी के लिए बड़ा नुकसान होगा। वहीं, पहले ही महाराष्ट्र के पूर्व सीएम अशोक चव्हाण, मिलिंद देवड़ा और बाबा सिद्दीकी सहित कई पुराने और अनुभवी नेताओं ने पिछले महीने पार्टी छोड़ चुके हैं।

ये भी पढ़ें…उत्तराखंड : अड़तोला में चीड़ का वृक्ष काट रहे 19 वर्षीय युवक की उसी वृक्ष से दबकर हुई मृत्यु

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here